आज जीतू जी के अतीत की कथा सुनकर ब्लोग-नाद के बारे में पता चलाए .तो मेरी भी इच्छा हुई कि मैं अपनी आवाज रिकार्ड कर पोडकास्टिंग करूं .तो प्रस्तुत करता हूं मेरा पहला पोडकास्ट .

अभी ये केवल .mp3 में ही अपलोड कर पा रहा हूं.

पोडकास्ट यहां सुने .

अपनी टिप्पणी दें और कोई गलती हुई हो तो क़ृपया बताऎं..

Advertisements